फरीदाबाद :कोरोना से बचाव के लिए हर स्तर पर प्रशासन सजग एवं सतर्क : डॉ. गरिमा मित्तल

फरीदाबाद, 22 अप्रैल। उपायुक्त डॉ. गरिमा मित्तल ने कहा कि फरीदाबाद जिला में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से सजग एवं सतर्क है। जिला में कोविड-19 मरीजों के लिए ईएसआईसी अस्पताल को कोविड अस्पताल घोषित किया गया है और वहां 150 बैड का क्रिटिकल केयर सेंटर भी स्थापित किया गया है। प्रशासन की देखरेख में ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में जिला में उपलब्ध है। उपायुक्त गुरुवार को लघु सचिवालय सभागार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग में कोरोना से बचाव के लिए किए गए प्रबंधों के बारे में जानकारी दे रही थी। उपायुक्त ने कोविड-19 से बचाव, रबी फसल खरीद प्रक्रिया सहित जल शक्ति अभियान को लेकर आयोजित गतिविधियों की विस्तार से जानकारी दी।

उपायुक्त ने बताया कि फरीदाबाद जिला में करीब 70 प्रतिशत कोरोना संक्रमित लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। किसी भी रूप से कोरोना संक्रमित व्यक्ति को परेशानी न हो इसके लिए प्रशासन की ओर से नियुक्त स्वास्थ्य टीमें नियमित संक्रमित व्यक्ति से संपर्क साधते हुए उनके स्वास्थ्य सुधार में सहयोगी बन रही हैं। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन पूरी टीम भावना के साथ कोरोना संक्रमण चक्र को तोडऩे में अपनी जिम्मेदारी निभा रहा है। आमजन को कोरोना से बचाव के लिए मास्क का उपयोग करने, एक दूसरे से उचित शारीरिक दूरी बनाकर रखने, हाथों को निरंतर साबुन से धोने सहित कोरोना वैक्सिनेशन करवाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इतना ही नहीं नाइट कर्फ्यू की भी सख्ती से पालना प्रशासन की ओर से सुनिश्चित की जा रही है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि जिला में सभी व्यवस्थाएं बेहतरीन ढंग से हों। ऑक्सीजन की सरकार के पास कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकारी के साथ-साथ प्राईवेट अस्पतालों को भी पूरी मात्रा में ऑक्सीजन दी जाएगी। वीडियो कॉन्फ्रेंस में अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, सीटीएम मोहित कुमार, सीएमओ रणदीप सिंह पुनिया सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here